मनमर्ज़ियाँ

Thursday, December 8 2016

शज़र कैसे "वीरान" में अब खिलेंगें, पतझड़ के बीज जब मैं बो चुका हूँ..!! ..

***ग़ज़ल*** मेरे पास खोने को कुछ भी नहीं है, जो था पास उसको मैं खो चुका हूँ..!! नमीं खुश्क आँखों में लाऊँ कहाँ से, किसी के लिए मैं बहुत रो चुका हूँ..!! चमक मेरे चेहरे पे अब भी है क़ायम, आंसुओं से चेहरा जब धो चुका हूँ..!! मुझे नींद आती नहीं बिन तुम्हारे, मुझे लग रहा है बहुत सो चुका हूँ..!! नहीं बोझ लगता  […]

Continue reading

Friday, November 4 2016

तू कहानी ही के पर्दे में भली लगती है, ज़िंदगी तेरी हक़ीक़त नहीं देखी जाती..

तू कहानी ही के पर्दे में भली लगती है, ज़िंदगी तेरी हक़ीक़त नहीं देखी जाती...  […]

Continue reading

Thursday, September 15 2016

कोशिश कर, हल निकलेगा,

कोशिश कर, हल निकलेगा, आज नही तो, कल निकलेगा... - अर्जुन के तीर सा निशाना साध, जमीन से भी जल निकलेगा... - मेहनत कर, पौधो को पानी दे, बंजर जमीन से भी फल निकलेगा... - ताकत जुटा, हिम्मत को आग दे, फौलाद का भी बल निकलेगा... - जिन्दा रख, दिल में उम्मीदों को, समन्दर से भी गंगाजल निकलेगा... - कोशिशें जारी रख  […]

Continue reading

Saturday, September 3 2016

इमकान तेरे आने का धुंधला बोहुत हे।

इमकान तेरे आने का धुंधला बोहुत हे। हां मगर इश्क़ में अभी हौशला बोहुत हे।। परिंदे तू बस उड़ा जा,उडा जा,उडा जा। ज़बी ज़मी से आशमा तक अभी फासला बोहुत हे।।  […]

Continue reading

Friday, May 13 2016

हँस कर दर्द छुपाने की कारीगरी मशहूर है मेरी

हँस कर दर्द छुपाने की कारीगरी मशहूर है मेरी पर कोई हुनर काम नहीं आता जब तेरा नाम आता है...

Continue reading

- page 1 of 2

Page top


Vote For MyFunLibrary.Com
on Anime Sites and Forums

at Top Site List Planet

Click To Alot Of Fun And Earn More Money with fun